टीका लगवाने के छठवें दिन सहायक प्रशासनिक अधिकारी की मौत, ब्रेन हेमरेज बताया गया कारण

राजस्थान में टीकाकरण के पहले चरण में कोरोना का टीका लगने के छठे दिन बाद ही सहायक प्रशासनिक अधिकारी (एएओ) सुरेशचंद्र शर्मा की जान चली गई। बताया जा रहा है कि, वे सीएमएचओ कार्यालय में कार्यरत हैं। हालांकि मेडिकल मौत के बाद सामने आई रिपोर्ट में ब्रेनहेमरेज, ब्लडप्रेशर और किडनी के फेल होने को कारण बताया गया है।

सीएमएचओ डॉ. रामकेश गुर्जर ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि, गुरुवार रात आठ बजे सहायक प्रशासनिक अधिकारी सुरेशचंद्र शर्मा का ब्रेन हेमरेज से मेडिकल कॉलेज उदयपुर में निधन हो गया। उन्हें लंबे समय से उच्च रक्तचाप व किडनी की बीमारी थी। 3 साल से नडियाद (गुजरात) से उपचाररत थे।


20 जनवरी की शाम में 7 बजे खाना खाते समय उन्हें उल्टी हुई। इसके बाद वे फर्श पर गिरकर बेहोश हो गए। इसके बाद उन्हें जिला अस्पताल ले जाया गया, हालांकि हालत गंभीर होने के बाद सुरेशचंद्र शर्मा को उदयपुर रैफर कर दिया गया। इलाज के बाद उनका गुरुवार को निधन हो गया।

सीएमएचओ कार्यालय में जिला एईएफआई कमेटी की बैठक हुई। इसमें बताया कि शर्मा का निधन ब्रेन हेमरेज, उच्च रक्तचाप व किडनी खराब होने से निधन हुआ। सीएमएचओ ने बताया कि, सहायक प्रशासनिक अधिकारी सुरेशचन्द्र शर्मा को 16 जनवरी के दिन वैक्सीन लगाई गई थी। साथ ही केंद्र सरकार ने गुरुवार की प्रेस कांफ्रेंस में भी माना है कि इस मामले का कोविड-19 टीकाकरण से कोई संबंध नहीं है।