जूनागढ़ | सौराष्ट्र के गिर अभ्यारण्य एक और शेर के मौत की घटना सामने आई है| इस घटना के बाद वन विभाग हरकत में आ गया है| हांलाकि शेर की मौत के कारणों का फिलहाल पता नहीं चला है| पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद असली वजह सामने आएगी| जानकारी के मुताबिक जूनागढ़ के दलखाणिया रेंज में एक शेर का शव बरामद हुआ है| जिसकी आयु करीब 6 से 7 वर्ष की बताई जा रही है| दलखाणिया रेंज से मिले शेर के शव को वन विभाग ने पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है| शेर की मौत कैसे हुई, इसका पता पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा| गुजरात की शान शेरों पर जैसे किसी की नजर लग गई और एक के बाद एक की मौत हो रही है| पिछले साल गिर अभ्यारण्य में करीब दो दर्जन शेरों की मौत हो गई थी| हाल ही में राज्यसभा में दिए गए सरकारी आंकड़ों के मुताबिक शेर के मुकाबले बाघ पर ज्यादा खर्च किया गया| एशियाटिक शेरों के संवर्द्धन के लिए वर्ष 2016-17, 2017-18 और 2018-19 के दौरान क्रमश: रु. 1.09 करोड़, रु. 2.24 करोड़ और रु. 19.83 करोड़ दिए गए| जबकि बाघों के लिए रु. 342.25 करोड़, रु. 345 करोड़ और रु. 323.44 करोड़ पिछले तीन साल में दिए गए|