अंबाला।  हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज (Anil Vij) ने राजनीतिक पृष्ठभूमि पर बनी वेब सीरीज 'तांडव' (Tandav) को अमेजन प्राइम वीडियो (Amazon Prime Videos) से हटाने की मांग करते हुए कहा कि इससे हिन्दू समुदाय की भावनाओं को कथित रूप से ठेस पहुंची है।

पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार को ऐसा प्रावधान करना चाहिए कि कोई भी वेब सीरीज सेंसर बोर्ड की मंजूरी के बिना स्ट्रीम ना हो। विज ने कहा कि इस वेब सीरीज को तुरंत अमेजन प्राइम वीडियो से हटा दिया जाना चाहिए क्योंकि वह हमारे तंत्र, राजनीति, सामाजिक ताने-बाने, युवा पीढ़ी और प्रधानमंत्री कार्यालय सभी पर हमला कर रहा है।

इस बीच, हरियाणा में कई जगहों पर सीरीज के खिलाफ प्रदर्शन हुए। बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने सीरीज के निर्माताओं और अभिनेताओं के पुतले जलाए। हालांकि हंगामे को देखते हुए 'तांडव के निर्माता, निर्देशक और अभिनेताओं ने इस काल्पनिक सीरीज से भावनाओं को ठेस पहुंचने पर बिना किसी शर्त सोमवार को माफी मांग ली है।

वहीं, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने इस संबंध में अमेजन प्राइम वीडियो से स्पष्टीकरण मांगा है और भाजपा सांसद मनोज कोटक ने इसे लेकर प्रकाश जावड़ेकर को पत्र लिखा है।

अली अब्बास जफर द्वारा निर्देशित थ्रिलर सीरीज को लेकर उसके निर्माताओं के खिलाफ लखनऊ समेत देशभर में कई जगहों पर एफआईआर दर्ज होने और कई नेताओं द्वारा 'तांडव' पर प्रतिबंध लगाने की मांग के कारण यह विवादों में फंस गई है।