हैदराबाद, हैदराबाद निकाय चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने अपने कई दिग्गज नेताओं को उतारे हैं. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ सहित पार्टी के कई नेता हैदराबाद का दौरा कर चुके हैं. अब अमित शाह हैदराबाद पहुंचे हैं. सिकंदराबाद में रोड शो से पहले उन्होंने भाग्यलक्ष्मी मंदिर में जाकर पूजा अर्चना की. मंदिर में पूजा के बाद उनका रोड शो हो रहा है.अमित शाह हैदराबाद निकाय चुनाव के लिए प्रचार के आखिरी दिन यह रोड शो कर रहे हैं. हैदराबाद निकाय के 150 सीटों पर 1 दिसंबर को मतदान होंगे जबकि मतगणना 4 दिसंबर को आएंगे. फिलहाल, अमित शाह ने हैदराबाद में आज मीडिया को भी संबोधित करेंगे. हैदराबाद में नामपल्ली स्थित बीजेपी के राज्य कार्यालय में 3 बजे वह डॉ. श्यामप्रसाद मुखर्जी भवन में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे.

ओवैसी ने कसा बीजेपी पर तंज
हैदराबाद निकाय चुनाव के लिए उतरे बीजेपी के दिग्गज नेताओं पर एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी तंज भी कस चुके हैं. ओवैसी ने कहा था कि यह चुनाव हैदराबाद निकाय का न होकर प्रधानमंत्री का हो गया है. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने इस चुनाव में इतने नेताओं को बुलाया है, अब बस डोनाल्ड ट्रंप का आना ही बाकी रह गया है. वह भी आ जाएं तो भी कुछ नहीं होगा. क्योंकि उनका भी हाथ थामकर पीएम मोदी ने कहा था कि अबकी बार ट्रंप सरकार लेकिन वह भी नहीं बचे और गड्ढे में गिर गए.


क्यों अहम है हैदराबाद
असल में, हैदराबाद निकाय चुनाव फिलहाल, राष्ट्रीय राजनीति का केंद्र बन गया है. इस पर देश भर की निगाहें हैं. ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव को 2023 के तेलंगाना विधानसभा चुनाव का लिटमस टेस्ट भी माना जा रहा है. लिहाजा, बीजेपी इस चुनाव को हैदराबाद में अपनी मौजूदगी कायम करने और तेलंगाना में सियासी आधार बढ़ाने के मौके के तौर पर देख रही है. बता दें कि ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम देश के सबसे बड़े नगर निगमों में से एक है. यह नगर निगम चार जिलों को कवर करता है जिनमें हैदराबाद, रंगारेड्डी, मेडचल-मलकजगिरी और संगारेड्डी आते हैं. इस पूरे इलाके में 24 विधानसभा क्षेत्र शामिल हैं और तेलंगाना के 5 लोकससभा सीटें आती हैं.