वार्षिक श्री अमरनाथ यात्रा के लिए बाबा बर्फानी का दरबार सजकर तैयार हो गया है। श्री अमरनाथ जी श्राइन बोर्ड एवं केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के प्रशासन द्वारा यात्रा की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा चुका है। अब तो बस, श्राइन बोर्ड द्वारा यात्रा की तिथियों की घोषणा करने का इंतजार है, ताकि देश-विदेश के शिवभक्त 3880 मीटर की ऊंचाई पर स्थित पवित्र श्री अमरनाथ गुफा में हिमशिवलिंग के रूप में शोभायमान बाबा बर्फानी के दर्शन कर सकें।
वित्र गुफा पर तैनात यात्रा निदेशक हरबंस लाल शर्मा ने तैयारियों को अंतिम रूप दिए जाने की पुष्टि की।
भारत समेत विश्वभर को अपनी चपेट में ले चुके कोविड-19 के चलते जहां इस वर्ष 23 जून से 3 अगस्त 2020 तक चलने वाली 42 दिवसीय श्री अमरनाथ यात्रा को स्थगित करना पड़ा और अभी भी श्राइन बोर्ड द्वारा नई तिथियों की औपचारिक घोषणा नहीं की जा सकी है, वहीं इस बार प्रस्तावित (21 या 23 जुलाई को शुरू होना संभव) यात्रा के प्रबंधों में भी कुछ बदलाव करने पड़े हैं।
सूत्रों के अनुसार श्राइन बोर्ड द्वारा इस बार पौराणिक महत्व वाले पहलगाम-चंदनवाड़ी मार्ग की बजाय केवल बालटाल मार्ग से ही अल्पकालीन और सीमित संख्या अर्थात केवल 500 श्रद्धालुओं पर आधारित यात्रा करवाई जा सकती है, जबकि पहले हर वर्ष पहलगाम और बालटाल दोनों मार्गों से यात्रा का संचालन किया जाता था।