औषधीय गुणों से भरपूर आंवला सेहतमंद रहने की बेहतरीन दवा है। विटामिन सी से भरपूर आंवला पोषक तत्वों का ख़ज़ाना है जिसमें जिंक, आयरन, कैरोटीन, फाइबर, विटामिन बी कॉम्प्लेक्स, कैल्शियम और एंटीऑक्सीडेंट्स मौजूद है, जो अच्छी सेहत के लिए जरूरी है। आंवला इम्यूनिटी को बूस्ट करता है, साथ ही कई बीमारियों का उपचार भी करता है। आंवला का सेवन उसका जूस बनाकर भी किया जा सकता है। आंवला का जूस बनाने के लिए आप घर में ही आंवला का पाउडर तैयार कर सकते हैं जिसका आप पूरे साल सेवन कर सकते हैं। आइए जानते हैं आंवला का जूस बनाने के लिए उसका पाउडर कैसे तैयार करें और उसके कौन-कौन से फायदे हैं।

आंवला का पाउडर करें तैयार:

आंवले को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें और कुछ दिनों के लिए उसे धूप में रख दें। कुछ दिनों में आंवला सूख जाएगा तो उस सूखे हुए आंवला को मिक्सर में डालकर पीस लें। आपको घर में ही आंवला का पाउडर तैयार मिल जाएगा।

कैसे तैयार करें आंवला का जूस:

आंवला का जूस जब भी पीना चाहते हैं तो एक गिलास पानी में एक चम्मच आंवला पाउडर डालें और उसे अच्छे से चलाएं और छान कर पीएं। खाली पेट इस ड्रिंक्स को पीने से आपकी सेहत को बेहद फायदा होगा।

वजन कंट्रोल करता है:

आंवला में पर्याप्त मात्रा में अमीनो एसिड पाया जाता है, जो मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करता है। आंवला जूस बॉडी में फैट नहीं जमाता। वजन कंट्रोल करने के लिए खाने से पहले आंवला का जूस पीना बेहद उपयोगी है।

शुगर कंट्रोल करता है:

आंवला क्रोमियम का सबसे अच्छा स्रोत है जो बॉडी में ब्लड शुगर के स्तर को कम करता है। शुगर के मरीज़ों के लिए यह जूस बेहद हेल्दी ड्रिंक है।

पाचन सुधारता है आंवला जूस:

फाइबर से भरपूर आंवला पाचन को सुधारने में मदद करता है। आंवला का जूस पीने से पाचन बेहतर होता है। आंवला प्राकृतिक लैग्जेटिव का काम करता है और शरीर से हानिकारक विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है। आंवला पानी पीने से कब्ज और एसिडिटी से छुटकारा मिलता है।

स्किन को हेल्दी रखता है:

आंवला का जूस स्किन को सेहतमंद रखता है। इसके सेवन से मुंहासे, पिगमेंटेशन और बढ़ती उम्र का असर कम होता है।