नई दिल्ली । दिल्ली हाई कोर्ट आज यानि शुक्रवार से सभी डिवीजन और सिंगल बेंचों के जरिये सुनवाई करेगा। सभी बेंच सभी किस्म के मामलों की सुनवाई वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये करेंगी। अभी तक सिर्फ दो डिवीजन बेंच और दस सिंगल बेंच वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये सुनवाई कर रही थीं।

चीफ जस्टिस डीएन पटेल के आदेश के मुताबिक हाई कोर्ट की रोस्टर बेंच उन मामलों की भी सुनवाई करेगा जिनमें अंतिम दलीलें होनी हैं और दोनों पक्षों ने इसके लिए अपनी सहमति दे दी है कि उनकी लिखित दलीलों के आधार पर केसों का निस्तारण कर दिया जाए। जो मामले काफी महत्वपूर्ण नहीं होंगे, उन पर रोस्टर बेंच नियमित सुनवाई के बाद ही सुनवाई शुरू करेगी।

पिछले 24 मार्च से लेकर 19 मई तक के लॉकडाउन के दौरान दिल्ली हाई कोर्ट और निचली अदालतों ने 20,726 मामलों की सुनवाई की। चीफ जस्टिस के आदेश के मुताबिक महत्वपूर्ण मामलों की सुनवाई के लिए मेंशनिंग पहले के आदेश के मुताबिक ही होगा। पिछली 16 मई को दिल्ली हाई कोर्ट की एडमिनिस्ट्रेटिव और जनरल सुपरविजन कमेटी ने हाई कोर्ट और दिल्ली की निचली अदालतों में 23 मई तक कामकाज निलंबित करने का फैसला किया था।