अलक्जेंडर ज्वेरेव ने एटीपी फाइनल्स का खिताब जीत लिया है। खिताबी मुकाबले में उन्होंने रूस के दानिल मेदवेदेव को सीधे सेटों में मात दी। ज्वेरेव ने इस साल छठा खिताब अपने नाम करने में सफल रहे।

विश्व के तीसरे वरीयता प्राप्त जर्मनी के अलक्जेंडर ज्वेरेव ने इटली के तूरिन में खेली गई प्रतियोगिता एटीपी फाइनल्स का खिताब जीत लिया। उन्होंने फाइनल मुकाबले मे दुनिया के दूसरे नंबर के खिलाड़ी रूस के दानिल मेदवेदेव को सीधे सेटो में हराया। इस खिताबी मुकाबले में ज्वेरेव ने मेदवेदेव को 6-4, 6-4 से शिकस्त दी। जर्मनी के खिलाड़ी का यह दूसरा एटीपी फाइनल्स खिताब है। इससे पहले उन्होंने साल 2018 में यह ट्रॉफी अपने नाम की थी।

फाइनल में ज्वेरेव को टक्कर नहीं दे पाए मेदवेदेव

फाइनल मुकाबले में अलकजेंडर ज्वेरेव के सामने रूसी स्टार दानिल मेदवेदेव टिक नहीं पाए। वह दोनों सेटों में बेहतर प्रदर्शन करने में नाकाम रहे। ज्वेरेव की झन्नाटेदार शॉट्स का मेदवेदेव के पास कोई जवाब नहीं था। जर्मनी के खिलाड़ी ने उन पर दबाव बनाते हुए पहला सेट 6-4 से अपने नाम किया। इसके बाद दूसरे सेट में मेदवेदेव से वापसी की उम्मीद थी लेकिन वह नाकाम रहे। दूसरे सेट में भी ज्वेरेव उन पर भारी पड़े और इसे भी 6-4 के अंतर से जीता।

2021 में ज्वेरेव ने जीता छठा खिताब

साल 2021 में अलक्जेंडर ज्वेरेव का प्रदर्शन शानदार रहा। यह वजह रही कि इस साल वह छह खिताब जीतने में सफल रहे। इस साल ज्वेरेव टोक्यो ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतने के अलावा दो मास्टर्स खिताब भी जीते। हालांकि वह अभी तक ग्रैंड स्लैम नहीं जीत पाए हैं। बीते साल 2020 में ज्वेरेव यूएस ओपन के फाइनल में पहुंचे थे लेकिन तब खिताबी मुकाबले में डोनोमिक थीम ने उन्हें पांच सेट तक चले मुकाबले में हराया था।

ऑस्ट्रेलिया ओपन पर नजर

खिताबी मुकाबले में मेदवेदेव को हारने के बाद ज्वेरेव ने कहा कि मैं ग्रैंड स्लैम के अलावा सारे खिताबी जीते हैं, यह एक खिताब है जिसे में मिस करता हूं, लेकिन मैं अगले सत्र में इस परिपाटी को बदलना चाहता हूं, उन्होंने आगे कहा, मैं पहले से ही 2022 का इंतजार कर रहा हूं क्योंकि मुझे पता है कि अभी कई चीजों में सुधार करना है। उनके बयान से स्पष्ट है कि उनका इरादा ऑस्ट्रेलियन ओपन जीतने का है जिसकी शुरुआत 17 जनवरी से होगी।