लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 20 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज को लेकर निशाना साधा है। उन्होंने इस पैकेज में विभिन्न वर्गों के आर्थिक बंटवार का हिसाब देने की मांग की है।

अखिलेश ने शनिवार को ट्वीट किया कि सरकार बस इतना बता दे कि 20 लाख करोड़ के तथाकथित ‘महापैकेज’ में कितना गरीब के लिए है। कितना किसान, दिहाड़ी-प्रवासी मजदूर, छोटे व्यापारी, खुदरा कारोबारी, रेड़ी-ठेले-पटरी वाले व अन्य मजबूरों के लिए है। उन्होंने कहा कि समाज को बांटने में माहिर लोग कृपया करके इस आर्थिक बंटवारे का हिसाब भी दे दें।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 20 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज ‘आत्मनिर्भर भारत’ की घोषणा की है। इसके तहत वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण अलग-अलग किश्तों में पैकेज को लेकर स्थिति स्पष्ट कर चुकी हैं। इसमें किसानों, पशुपालकों एमएसएमई सेक्टर, प्रवासी मजदूरों, स्ट्रीट वेंडर्स, ढांचागत सुधारों और अन्य सेक्टर के लिए कई तरह की घोषणाएं की गई हैं।