रायपुर। छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी को बुधवार देर रात कार्डियक अरेस्ट आया। नारायण अस्पताल के डायरेक्टर डॉ सुनील खेमका ने बताया कि इलाज के दौरान अजीत जोगी को एक बार फिर कार्डियक अरेस्ट आया। उनकी हालत स्थिर हो गई थी। उनकी पल्स रेट नीचे गिर गई थी। हालांकि देर रात तक उनकी स्थिति में थोड़ा सुधार दर्ज किया गया है। हृदय रोग विशेषज्ञ डॉक्टर पंकज उमर सहित डॉक्टरों की टीम आईसीयू में है और जोगी के स्वास्थ्य की लगातार निगरानी कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि उनका बीपी ऊपर नीचे हो रहा है, जिससे दिक्कत है। जोगी को 9 मई को कार्डियक अरेस्ट आने के कारण नारायण अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उस समय से जोगी कोमा में है। जोगी पिछले 20 दिनों से अस्पतान में हैं। बताया जाता है कि 9 मई की सुबह उनकी हालत बिल्कुल सामान्य थी। सुबह के वक्त नाश्ते के बाद वे बंगले के बागीचे में बैठे थे। इस दौरान उन्होंने पेड से गिरे गंगा इमली के फल को खाया। फल का बीज उनके गले में फंस गया। इसके बाद वह बीज स्वांस नली में अटक गया। इस घटना के बाद जोगी कोमा में चले गए थे। पिछले कुछ दिनों से उनके मस्तिष्क में थोडी हरकत शुरू हुई थी और उम्मीद की जा रही थी कि जोगी जल्द स्वस्थ्य हो जाएंगे। बहरहाल डॉक्टरों की पूरी टीम उनके इलाज में जुटी हुई है। लोग भी लगातार उनकी सलामती के लिए दुआएं कर रहे हैं।