• गहलोत सरकार की योजनाओं को धरातल पर और मजबूती से कैसे ला जाएं, इन सब मुद्दों पर विचार करेंगे

कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अजय माकन आज रात जयपुर पहुंचेंगे। आज रात जयपुर में ही रुकेंगे। जिसके बाद बुधवार से कांग्रेसियों के साथ अलग- अलग फीडबैक बैठक करेंगे। इस दौरान कांग्रेस से जुड़े नेताओं व कार्यकर्ताओं का मन टटाेलेंगे। वह जयपुर संभाग के हर जिले के नेताओं से बात करेंगे। माकन इन बैठकों के जरिए संगठन काे कैसे मजबूत बनाया जाए। गहलोत सरकार की योजनाओं को धरातल पर और मजबूती से कैसे ला जाएं। इन सब मुद्दों पर विचार करेंगे।

साथ ही माकन कांग्रेसियों से इस बात पर भी बात करेंगे कि राज्य सरकार जनहित में और क्या - क्या काम कर सकती है ताकि कांग्रेस कार्यकर्ता का ग्राउंड पर मान - सम्मान बढ़े। गौरतलब है कि 30 अगस्त को अजय माकन फीडबैक बैठक करने जयपुर पहुंचे थे। दो दिन बैठक करने के बाद प्रणब मुखर्जी के निधन के कारण वे दिल्ली लौट गए थे। अब फीडबैक बैठक फिर से शुरू होगी।

हर जिले में इन 50 से करेंगे बात

माकन अपने दौरे में प्रत्येक जिले से 50 या इससे अधिक लोगों के साथ फीडबैक बैठक करेंगे। इन 50 में विधायक, पूर्व विधायक, विधायक प्रत्याशी, संगठन पदाधिकारी, अग्रिम संगठनों के पदाधिकारी, सांसद प्रत्याशी व प्रमुख कांग्रेसी नेता शामिल रहेंगे। इनसे बात करके माकन प्रदेश कांग्रेस और सरकार के लिए बेहतर वर्किंग मॉडल का एक प्लान तैयार करेंगे। इस प्लान में कांग्रेस कार्यकर्ताओं काे और बेहतर सम्मान, कार्यकर्ताओं द्वारा प्रदेशभर में कांग्रेस की छवि को अच्छा और मजबूत बनाने सहित बिंदुओं पर काम हाेगा। साथ ही पार्टी में किस तरह से गुटबाजी को खत्म किया जाए ये मुद्दे भी रहेंगे। इन सब फीडबैक बैठकों का ब्योरा भी कांग्रेस आलाकमान तक पहुंचाया जाएगा। माकन से मिलने के लिए संबंधित नेताओं को सूचना भेज दी गई है।

जन घोषणा पत्र के वादे, मंत्रियों के रिपोर्ट कार्ड भी होंगे क्रॉस वेरिफाई

माकन ने कांग्रेस के जन घोषणा पत्र के वादे और मंत्रियों की वर्किंग परफोर्मेंस पर रिपोर्ट ली थी। इसमें मंत्रियों ने जन घोषणा पत्र के 70 प्रतिशत वादे पूरी करने के दावे किए थे। ऐसे में माकन मंत्रियों की रिपोर्ट और कांग्रेसी नेताओं से क्राॅसवेरिफाई भी करेंगे कि किस हद तक वर्किंग हुई। किस किस लेवल पर कमियां या अच्छा काम हुआ। कमियां रहने पर कांग्रेसियों ने क्या किया।