नई दिल्ली: बीजेपी नेता प्रकाश जावड़ेकर ने शनिवार को आम आदमी पार्टी पर आरोप लगाया कि सत्ता में आने के बाद उसने भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान चलाने वाले सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे को एक किनारे कर दिया है.
दिल्ली में लोकसभा चुनाव से ठीक एक दिन पहले जावडेकर ने अन्ना कहते हुए नजर आ रहे हैं कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सत्ता में आने के बाद उनसे एक बार भी मुलाकात नहीं की. 
अन्ना को कहते सुना गया, ‘सत्ता और पैसा लोगों से कुछ भी करा सकता है. इससे पहले वे (केजरीवाल) कहते थे कि वे वेतन नहीं लेंगे. सत्ता में आने के बाद उनका दिमाग बदल गया है.’
जावडेकर ने आरोप लगाते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी अन्ना के भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन से उपजी थी लेकिन जब वह सत्ता में आई तो उसने अन्ना को एक किनारे कर दिया.