सागर  जिले के खुरई थाना क्षेत्र के ग्राम घोरट में वरमाला कार्यक्रम के बाद छत पर सो रहे दूल्हे की गला रेतकर हत्या कर दी गई। वारदात गुरुवार-शुक्रवार की दरम्यानी रात की है। मृतक की 26 जून को शादी हुई थी। 15 जुलाई को वरमाला और भंडारे का कार्यक्रम था। घटनाक्रम की सूचना पर खुरई थाना पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू की है।

सूचना के अनुसार खुरई थाना क्षेत्र के ग्राम घोरट निवासी रघुराज कुशवाहा (28) की शादी होने के बाद गुरुवार को वरमाला और भंडारा कार्यक्रम था। घर में रिश्तेदार आए हुए थे। दिनभर कार्यक्रम चला। रात में दूल्हा रघुराज सोने के लिए छत पर चला गया। इसी बीच देर रात रघुराज की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी गई। सुबह रिश्तेदार सोकर उठे तो बिस्तर में खून से लथपथ रघुराज का शव पड़ा था।

वारदात सामने आते ही गांव में सनसनी फैल गई। मामले में परिवार वालों ने तुरंत पुलिस को सूचना दी। खबर मिलते ही खुरई थाना प्रभारी अनूप सिंह ठाकुर पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और शव का पंचनामा बनाया। वहीं एफएसएल टीम ने वारदातस्थल से हत्या से जुड़े साक्ष्य जुटाए।
 

26 जून को हुई थी मृतक की शादी

मृतक रघुराज की शादी कृष्णा कुशवाहा निवासी मड़ैया माफी के साथ 26 जून को हुई थी। कृष्णा की दूसरी शादी थी। शादी के बाद 15 जुलाई को वरमाला और भंडारे का कार्यक्रम रखा गया था। जिसमें सभी रिश्तेदार व ग्रामीण शामिल हुए थे। इसी बीच कार्यक्रम के बाद रात में छत पर सो रहे दूल्हे रघुराज की हत्या कर दी गई।

पत्नी के पहले पति पर संदेह, डॉग स्क्वॉड से जुटाए साक्ष्य

वारदात सामने आने के बाद पुलिस टीम मौके पर डॉग स्क्वॉड लेकर पहुंची। जहां डॉग स्क्वॉड से हत्यारे के सुराग जुटाए गए। पुलिस की प्राथमिक जांच में सामने आया कि हत्यारा घर के पीछे के रास्ते से छत पर आया और रघुराज की हत्या कर फरार हो गया। हत्या में पत्नी कृष्णा के पहले पति पर संदेह जताया जा रहा है। जिसकी तलाश पुलिस कर रही है।

SDOP सुमित किरकेट्टा ने बताया कि छत पर सो रहे युवक की गला रेत कर हत्या की गई है। मामले में मृतक की पत्नी के पहले पति पर संदेह है। संदेही की तलाश की जा रही है। वारदातस्थल से साक्ष्य जुटाए जा रहे हैं।