वॉशिंगटन । अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव में पराजय के बाद डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिका के रक्षा मंत्री के पद से मार्क एस्पर को सस्पेंड कर दिया है। डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीटर पर लिखा कि रक्षा मंत्री मार्क एस्पर को टर्मिनेट कर दिया गया है और क्रिस्टोफर मिलर, जो राष्ट्रीय आतंकवाद निरोधक केंद्र के निदेशक थे, वे ही तुरंत यानि तात्कालिक रूप से अगला रक्षा मंत्री बनाया है। माना जा रहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में हार के एक सप्ताह बाद डोनाल्ड ट्रंप की तरफ से ये फैसला मार्क एस्पर और ट्रंप के बीच नौसैनिकों और सैन्य कर्मियों का इस्तेमाल करने के अपने सुझाव को लेकर टकराव के बाद लिया गया है।
एक अन्य ट्वीट में ट्रंप ने कहा है कि मिलर बहुत बढ़िया काम करेंगे। दरअसल, ट्रंप और एस्पर के संबंध पिछले दिनों नस्लीय भेदभाव को भड़के असंतोष के दौरान ही खराब हो गए थे। एस्पर घरेलू मामलों को संभालने के लिए सैनिकों को तैनात करने के पक्ष में नहीं थे। जबकि ट्रंप ऐसा चाहते थे और वाशिंगटन डीसी में सेना को लगा दिया गया था। बता दें कि अमेरिका में आमतौर पर दोबारा निर्वाचित होने के बाद राष्ट्रपति अपने मंत्रियों को हटाते हैं। पराजित होने के बाद कोई राष्ट्रपति अगली सरकार के गठन तक राष्ट्रीय सुरक्षा के नाम पर रक्षा मंत्री को नहीं हटाता है लेकिन ट्रंप ने उप रक्षा मंत्री को भी दरकिनार कर दिया है।  उधर, सत्ता हस्तांतरण के बढ़ रहे दबाव के बीच राष्ट्रपति ट्रंप चुनाव में धांधली के खिलाफ कई रैलियां करने की योजना बना रहे हैं। ट्रंप कैंपेन के प्रवक्ता ने इसकी पुष्टि की है। हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया कि ट्रंप रैलियां कब से शुरू करेंगे। प्रांतों में दोबारा मतगणना का दबाव डालने के लिए भी ट्रंप ने टीमों की घोषणा की है। हालांकि प्रांतीय चुनाव अधिकारियों ने कहा है कि किसी भी प्रकार की धांधली नहीं हुई है। अब तक ट्रंप कैंपेन ने धांधली से जुड़ा कोई प्रमाण पेश नहीं किया है।