चंडीगढ़ । पंजाब कांग्रेस में फिर से घमासान तेज हो गया है। बता दें कि सिद्धू ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखकर अपना इस्तीफा सौंपा है। वहीं, सिद्धू के इस्तीफे के तुरंत बाद पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का बयान सामने आया। कैप्टन ट्वीट किया कि मैं कहा था कि  वहां अच्छा आदमी नहीं है और पंजाब के सीमावर्ती राज्य के लिए उपयुक्त नहीं है। दरअसल, सिद्धू के चलते कैप्टन अमरिंदर अपमानित महसूस कर रहे थे। हालांकि कैप्टन अमरिंदर ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद कहा था कि उन्होंने सिद्धू के चलते इस्तीफा नहीं दिया है बल्कि अपमानित महसूस करते हुए उन्होंने पद छोड़ दिया।
बता दें कि कैप्टन अमरिंदर, सिद्धू को पंजाब प्रदेश अध्यक्ष बनाने के पक्ष में नहीं थे। उन्होंने तीन सदस्यीय समिति के समक्ष पहले ही स्पष्ट कर दिया था कि वहां सिद्धू को न तो प्रदेश अध्यक्ष पद और न ही उपमुख्यमंत्री पद देने के लिए तैयार हैं। हालांकि हालात इसतरह के बने कि सिद्धू की ताजपोशी हो गई और कैप्टन अमरिंदर को पद से इस्तीफा देना पड़ा और सिद्धू के करीबी चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बना दिया गया।