नई दिल्ली: पंजाब कांग्रेस में एक बड़ा सियासी ड्रामा पिछले कई दिनों से चल रहा है. इस ड्रामे की पहली कड़ी सिद्धू Vs कैप्टन थी जो कुछ दिन पहले ही खत्म हुई. अब इसकी दूसरी कड़ी शुरू हुई है और इस नए अध्याय का नाम है सिद्धू Vs राहुल गांधी. मंगलवार को नवजोत सिंह सिद्धू ने पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया, उनके इस्तीफे के बाद पंजाब कैबिनेट मंत्री समेत 4 नेताओं ने भी इस्तीफा सौंप दिया. 

BJP ज्वाइन करने को लेकर क्या बोले कैप्टन? 
पंजाब में जारी सियासी ड्रामे के बीच कैप्टन अमरिंदर सिंह के BJP ज्वाइन करने के कयास तेज हो गए हैं. सिद्धू के इस्तीफे के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ज़ी मीडिया से बातचीत की. पंजाब के पूर्व सीएम ने सिद्धू को देश विरोधी बताया. उन्होंने कहा कि सिद्धू मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को चलाने की कोशिश कर रहे थे. वहीं, पार्टी छोड़ने के सवाल पर कैप्टन ने साफ-साफ कुछ भी जवाब नहीं दिया. उन्होंने कहा कि मैं कांग्रेस में रहूंगा या नहीं जवाब नहीं दे सकता.

अमित शाह से मिलेंगे कैप्टन? 
इस बीच बता दें कि कैप्टन इस समय दिल्ली में हैं. मीडिया में इस बात की चर्चा जोरों पर है कि कैप्टन दिल्ली में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) और भाजपा (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) से मुलाकात करेंगे. हालांकि पूर्व सीएम के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल ने कहा, 'कैप्टन के दिल्ली दौरे को लेकर काफी कुछ पढ़ने को मिल रहा है. वो एक निजी यात्रा पर हैं. इस दौरान वो अपने कुछ दोस्तों से मिलेंगे और पंजाब के नए सीएम के लिए कपूरथला हाउस को भी खाली करेंगे. किसी गैरजरुरी आशंकाओं की जरूरत नहीं है.'

सभी विकल्प खुले हैं: कैप्टन
बता दें कि कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नवजोत सिंह सिद्धू के साथ हुए कलह के बाद सीएम के पद से इस्तीफा दे दिया था. इस्तीफे के बाद कांग्रेस आलाकमान के प्रति कैप्टन अमरिंदर सिंह की नाराजगी भी सामने आई थी. कैप्टन ने जब पद से इस्तीफा दिया तो भाजपा में न जाने पर कोई स्पष्ट जवाब नहीं दिया था. कैप्टन ने कहा था कि सभी विकल्प खुले हैं. उनके इस जवाब के बाद कई राजनीतिक विश्लेषक अपनी-अपनी तरफ से कयास लगा रहे थे. उस समय कैप्टन ने कहा था कि उन्हें अपमानित होकर मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़नी पड़ी. इसके बाद उन्होंने सिद्धू पर बड़ा हमला बोला. सिद्धू को एंटी नेशनल बताते हुए ऐलान कर दिया कि वो उन्हें पंजाब का CM नहीं बनने देंगे.