कोलकाता. तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) सुप्रीमो ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने बुधवार को कहा कि अगर वह 30 सितंबर को होने वाले भवानीपुर विधानसभा उपचुनाव (Bhabanipur bypoll) में जीत हासिल नहीं करती हैं तो उनकी पार्टी का कोई और व्यक्ति पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री बन जाएगा. उन्‍होंने कहा, बारिश होने पर भी अपना वोट जरूर दें. आपका एक-एक वोट कीमती है. अगर मुझे एक भी वोट कम पड़ा तो इसका परिणाम मुझे भुगतना पड़ेगा. ममता बनर्जी ने कहा, आत्मसंतुष्ट होकर मत बैठो और ये मत मान लो कि मेरी जीत पक्की है. यदि आप मुझे मुख्यमंत्री के रूप में देखना चाहते हैं तो आपको मुझे वोट देना होगा. हर वोट महत्वपूर्ण है.
दक्षिण कोलकाता के एकबालपुर इलाके में अपनी पहली चुनावी बैठक में बोलते हुए ममता ने कहा, अगर मैं नहीं जीतती हूं तो कोई और मुख्यमंत्री बन जाएगा क्योंकि हम बहुमत में हैं. हिंदी और बंगाली में बोलते हुए बनर्जी ने कहा, मैंने नंदीग्राम से चुनाव लड़ा था लेकिन मुझे वहां पर हराने की साजिश रची गई. ये मामला अब सुप्रीम कोर्ट में है. भारत के संविधान के मुताबिक मुझे मुख्‍यमंत्री बने रहना है तो भवानीपुर विधानसभा सीट से मुझे जीत हासिल करनी होगी.
बता दें कि पिछले दो विधानसभा चुनावों के नतीजों को देखें तो हिंदू बाहुल्‍य भवानीपुर में बीजेपी को हार का सामना करना पड़ा है. इस निर्वाचन क्षेत्र में कुल मतदाताओं का लगभग 20% मुसलमान हैं. ममता बनर्जी ने कहा, नरेंद्र मोदी जी, अमित शाह जी, हम आपको भारत को तालिबान के जैसा नहीं बनाने देंगे. भारत एक रहेगा. गांधीजी, नेताजी, विवेकानंद, सरदार वल्लभभाई पटेल, गुरुनानक जी, गौतम बुद्ध, महावीर सभी के अनुयायी इस देश में साथ रहेंगे. हम किसी को भी भारत का बंटवारा नहीं करने देंगे.
इस दौरान ममता बनर्जी ने बीजेपी को जुमला पार्टी कहकर संबोधित किया. उन्होंने कहा कि वे यह कहते हुए झूठ बोलते हैं कि हम राज्य में दुर्गा पूजा, लक्ष्मी पूजा की अनुमति नहीं देते हैं. लेकिन अगर भाजपा वाले धारा 144 लगाए रहेंगे तो दुर्गा पूजा कैसे होगी? बता दें कि भवानीपुर सीट पर ममता बनर्जी को भाजपा की प्रियंका टिबरेवाल से सीधी चुनौती मिल रही है. इसी के मद्देनजर सीएम ने रैली में भाजपा को आड़े हाथों लिया.