चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में सबसे अधिक कमाई करने वाले क्रिकेटर हैं। धोनी आईपीएल से 150 करोड़ रुपये से अधिक की कमाई करने वाले पहले क्रिकेटर हैं। धोनी की आईपीएल 2020 के रिटेंशन डे से पहले कमाई 137 करोड़ से ज्यादा थी, लेकिन जैसे ही धोनी का अनुबंध बढ़ा उनका नाम रिकार्ड बुक में आ गया है। धोनी साल 2008 से ही सीएसके के कप्तान रहे हैं। ऐसे में उनका वेतन अब 15 करोड़ रुपये है। उन्हें 2018 से इतनी रकम मिल रही है। धोनी आईपीएल 2008 की नीलामी में सबसे बड़े खिलाड़ी थे और तब वह सबसे महंगे खिलाड़ी बनकर बिके थे। उन्हें सीएसके ने 6 करोड़ करोड़ रुपये में खरीदा था। इसके बाद अगले तीन साल तक उनकी कमाई इतनी ही रही थी। साल 2011 में बीसीसीआई ने रिटेंशन की कीमत को बढ़ाकर 8 करोड़ रुपये कर दिया। इसके बाद 2011 से 2013 के बीच आईपीएल में धोनी का वेतन 8.28 करोड़ रुपये रहा।   आईपीएल में साल 2014 की मेगा नीलामी से पहले बीसीसीआई ने एक बार फिर से उन्हें बरकरार रखने की रकम को बढ़ाया है। ऐसे में साल 2014 और 2015 में आईपीएल से धोनी की कमाई 12.5 करोड़ हुई। इसके बाद 2016 और 2017 में धोनी सीएसके पर प्रतिबंध के बाद राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स के साथ थे। इस दौरान उनका वेतन 25 करोड़ रुपये था। तीन बार के आईपीएल खिताब विजेता कप्तान धोनी ने साल 2018 में लीग में वापसी के बाद से सीएसके में 60 करोड़ रुपये कमाए हैं।  150 करोड़ रुपये से अधिक के संयुक्त वेतन वाले वह एकमात्र खिलाड़ी हैं। वहीं आईपीएल कमाई में दूसरे नंबर पर मुम्बई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा हैं। रोहित ने लगातार चौथे सत्र के लिए आरसीबी के कप्तान विराट कोहली की तुलना में 2 करोड़ रुपये कम कमाए हैं पार इसके बाद भी वह कुल कमाई में विराट से आगे हैं। 
रोहित अब आईपीएल की शुरुआत से ही सबसे अधिक भुगतान पाने वाले खिलाड़ियों में से एक हो गये हैं, उन्होंने तक 146.6 करोड़ रुपये से अधिक की कमाई की है। उन्होंन साल 2018 से मुंबई इंडियंस से 15 करोड़ रुपये अधिक कमाऐ हैं। वहीं, दूसरी ओर विराट साल 2018 से ही प्रति सीजन 17 करोड़ रुपये कमा रहे हैं। वह तीसरे स्थान पर हैं। विराट ने आईपीएल से अबतक 143.2 रुपये कमाए है।