नई दिल्ली , शाहरुख खान और गौरी खान बॉलीवुड के सबसे फेमस कपल्स में से एक हैं. शाहरुख और गौरी फैन्स को कपल गोल्स देते रहते हैं. दोनों शादी के 29 साल बाद भी एक दूसरे से बचपन जैसा प्यार करते हैं. लेकिन क्या आपको पता है कि दोनों की एक दूसरे के लिए दीवानगी कैसी रही है? शाहरुख के 55वें जन्मदिन के मौके पर जानते हैं इस किस्से के बारे में. एक समय ऐसा भी रहा है जब गौरी शाहरुख को छोड़कर दिल्ली से मुंबई चली गई थीं और उन्हें ढूंढने के लिए एक्टर शहरभर में भटके थे. 2019 में हॉलीवुड टीवी होस्ट डेविड लेटरमैन के शो My Next Guest Needs No Introduction में शाहरुख खान ने शिरकत की थी. इस शो में डेविड ने शाहरुख खान की जिंदगी के बारे में बात की थी. ऐसे में शाहरुख के करियर, स्टारडम, उनकी माता-पिता संग जिंदगी, गौरी संग लव स्टोरी और बच्चों संग रिश्ते से जुड़ी बातों को डेविड ने पूछा था. इस दौरान शाहरुख ने बताया था कि कैसे सालों पहले वे मुंबई आए थे और उनका मकसद गौरी को ढूंढना था. आज शाहरुख के जन्मदिन पर हम आपको बता रहे हैं वो किस्सा.

गौरी को ढूंढने के लिए दर-दर भटके थे शाहरुख खान 
ये बात शाहरुख खान के कॉलेज के दिनों की है. तब वह दिल्ली में रहा करते थे और उन्होंने अपने दोस्तों के साथ मिलकर एक ग्रुप बनाया था, जिसका नाम C गैंग था. उस समय शाहरुख C सेक्शन में पढ़ते थे और वो और उनके दोस्त खुद को कूल मानते थे, इसलिए इस ग्रुप का नाम ऐसा था. शाहरुख और गौरी उस समय एक दूसरे को डेट कर रहे थे. इसी बीच गौरी शाहरुख को छोड़ मुंबई चली गई थीं. शाहरुख को ये नहीं पता था कि गौरी मुंबई में कहां गई हैं. ऐसे में शाहरुख खान ने अपने C गैंग के साथ मुंबई जाने का प्लान बनाया. उनके दिमाग में था कि वो किसी हीरो की तरह मुंबई पहुंचेंगे और गौरी उन्हें दौड़ते हुए आएंगी और उन्हें मिलेंगी. हालांकि ऐसा नहीं हुआ. शाहरुख खान जब मुंबई गए तो उन्हें नहीं पता था कि वो कितना बड़ा शहर है. शाहरुख ने सोचा था कि वह गौरी को किसी बीच पर ढूंढ सकते हैं क्योंकि उन्हें स्विमिंग पसंद थी. एक बीच पर पहुंचकर उन्हें गौरी नहीं मिली. फिर उन्हें एक टैक्सी ड्राइवर सरदार जी मिले, जिन्होंने शाहरुख को बताया कि मुंबई में एक से ज्यादा बीच हैं. तब शाहरुख ने उन्हें कहा कि उनके और उनके दोस्तों को मिलाकर कुल 400 रुपये उनके पास हैं. आप बीच पर हमें ले जाएं जैसी ही मीटर में 400 रुपये बन जाएंगे आप हमें उतार देना. सरदार जी ने शाहरुख और उनके दोस्तों को मुंबई के बीच पर ले जाने का काम किया. हालांकि दर-दर भटकने के बाद भी गौरी उन्हें नहीं मिली. सुबह से भूखे-प्यासे घूम रहे शाहरुख के दोस्त भी उनसे गुस्सा हो गए थे. ऐसे में उन्होंने कहा कि बस एक आखिरी बीच पर देख लेते हैं. दोस्तों में से कोई तैयार नहीं था लेकिन फिर भी सब गए. शाहरुख ने एक लड़की की आवाज सुनी और उसे फॉलो किया. इसके बाद उन्होंने वहां ढूंढा तो उन्हें गौरी मिल गईं. गौरी ने उनसे पूछा कि वो मुंबई में क्या कर रहे हैं. फिर शाहरुख ने उन्हें बताया कि वो उनसे मिलने आये हैं. जब डेविड लेटरमैन ने गौरी से इस बारे में पूछा था तो उन्होंने कहा था कि उनके घरवालों को शाहरुख खान संग उनके रिश्ते के बारे में तब नहीं पता था. वह शाहरुख से ब्रेक लेकर मुंबई गई थीं क्योंकि तब शाहरुख बहुत पोजेसिव थे. हालांकि जब दोनों मिले, उसके बाद अलग नहीं हुए और आज 29 साल बाद भी दोनों का रिश्ता मजबूत बना हुआ है.