दुबई । तीन बार की विजेता  चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) का प्रदर्शन इस बार इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में अच्छा नहीं रहा है। टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का भी मानना है कि अगर उनकी टीम को (आईपीएल) में बेहतर परिणाम हासिल करने हैं तो उसे बल्लेबाजी में सुधार करना होगा। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) के हाथों मिली हार के बाद धोनी ने माना है कि उनके गेंदबाजों के अलावा बल्लेबाज भी विफल रहे हैं। उनकी टीम के गेंदबाज अंतिम ओवरों में उम्मीद के अनुसार प्रदर्शन नहीं कर पाये। इससे बेंगलोर की टीम चार विकेट पर 169 रन बनाने में सफल रही। धोनी ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि जब हम गेंदबाजी कर रहे थे तो अंतिम चार ओवर बेहद खराब रहे जबकि हमें इसमें अच्छा करने की जरूरत थी। इसलिए मुझे लगता है कि हमें संयोजन पर ध्यान देना होगा। हमारी मुख्य चिंता बल्लेबाजी विभाग बना रहेगा।’’ इस मैच के बाद यह और साफ हो गया। हमें इसके बारे में कुछ ज्यादा करने की जरूरत नहीं है। मुझे लगता है कि हमें बड़े शॉट खेलने पर ध्यान  देना होगा। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि यह इस पर भी निर्भर करता है कि टूर्नामेंट में अब तक आपने कैसा प्रदर्शन किया है। हमारी बल्लेबाजी में छठे ओवर के बाद से ही आक्रामकता की थोड़ी कमी दिखी है। आगामी मैचों में हम ज्यादा प्रभावी होने की कोशिश करेंगे।’’