पूर्व सीएम कमल नाथ 18 सितंबर की दोपहर 2 बजे दो दिन के प्रवास पर विशेष विमान से ग्वालियर आयेंगे। वे विमानतल से लेकर वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई की समाधि तक रोड-शो करेंगे। वीरांगना की समाधि पर श्रद्धासुमन अर्पित करने के बाद वे ग्वालियर-चंबल अंचल के चुनाव प्रचार अभियान का शंखनाद करेंगे। रोड शो के बाद ग्वालियर, ग्वालियर पूर्व व डबरा विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं व नेताओं के साथ बैठकों का सिलसिला शुरू होगा।

कमल नाथ दो दिन के प्रवास के दौरान प्रतिनिधि मंडलों से भी मुलाकात करेंगे। उपचुनाव के लिए कांग्रेस ने उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर दी है। कमल नाथ के यात्रा की तैयारियों की संबंध में रविवार की दोपहर को शहर जिला कांग्रेस कार्यालय में कांग्रेसियों की बैठक हुई।

बैठक में ग्वालियर पूर्व विधानसभा के प्रभारी पूर्व मंत्री पीसी शर्मा, प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष रामनिवास रावत, जिलाध्यक्ष डॉ. देवेंद्र शर्मा, पूर्व मंत्री लाखन सिंह, बालेंदु शुक्ला, रामसेवक बाबूजी, मिर्ची बाबा, सतीश सिकरवार, सत्यप्रकाश परसेड़िया के अलावा चारों शहर व ग्रामीण के कार्यकारी अध्यक्ष उपस्थित थे। इसके अलावा ग्वालियर-चंबल अंचल के जिलाध्यक्ष भी उपस्थित थे। बैठक में कमल नाथ के आगमन की तैयारियों की जिम्मेदारी भी सौंपी गई है।

पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने बैठक में कहा कि इससे पूर्व माननीय का निधन होने पर चुनाव होता था। पहली बार चंद विधायकों की आत्मा मरने पर उपचुनाव होने जा रहे हैं। अपना जमीर बेचने वालों को सबक सिखाने का अब वक्त आ गया है। निष्ठावान कांग्रेसी उपचुनाव के लिये तैयार रहें।

उन्होंने बताया कि प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमल नाथ 18 सितंबर को दोपहर 2 बजे विशेष विमान से ग्वालियर आयेंगे। रोड शो के उपरांत जिले के प्रमुख नेताओं, ब्लॉक से लेकर पन्ना प्रभारियों से बात करेंगे। कमल नाथ के आगमन की अंचल में तैयारियों शुरू हो गई हैं। दोनों अंचल से भारी संख्या में कार्यकर्ताओं का 18 व 19 सितंबर को जमावड़ा रहेगा।