रायपुर : कृषि विभाग के सचिव तथा कांकेर जिले के प्रभारी सचिव श्री धनंजय देवांगन ने आज कांकेर जिले के चारामा विकासखण्ड के ग्राम आंवरी तथा भानुप्रतापपुर विकासखण्ड के ग्राम मुंगवाल के गौठान का निरीक्षण कर वहां संचालित गतिविधियों की जानकारी ली और गौठान समिति के सदस्यों से गोबर खरीदी के संबंध में चर्चा की। प्रभारी सचिव श्री देवांगन ने महिला स्व-सहायता समूहों के सदस्यों को आयमूलक कार्य करने के लिए प्रोत्साहित भी किया। इस दौरान कलेक्टर श्री के.एल. चौहान और जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. संजय कन्नौजे भी उनके साथ थे।
    प्रभारी सचिव श्री धनंजय देवांगन मंगलवार को चारामा विकासखण्ड के ग्राम आंवरी के गौठान का निरीक्षण किया। गौठान में गोधन न्याय योजना अंतर्गत गोबर की खरीदी की जा रही है। यहां अब तक 435 किलो गोबर की खरीदी गौठान समिति द्वारा की गई है। प्रभारी सचिव की मौजूदगी में श्रीमती अमृताबाई जोशी द्वारा 24 किलो गोबर का विक्रय किया गया। पशु पालकों द्वारा रोजाना गोबर का विक्रय गौठान समिति किया जा रहा है। इस गौठान में महिला स्व-सहायता समूहों द्वारा सब्जी-भाजी की खेती की जा रही है। उनके द्वारा जिमीकंद, हल्दी, बरबट्टी, भिंडी, बैगन, लौकी टमाटर इत्यादि सब्जी लगाया गया है। जिसका अवलोकन प्रभारी सचिव श्री देवांगन एवं कलेक्टर श्री चौहान ने किया। इस अवसर पर स्व-सहायता समूह के सदस्यों को प्रोत्साहित करते हुए उन्होंने कहा कि ऐसा काम करें, जिससे आप सब की आमदनी बढ़े और आपका जीवन खुशहाल हो। स्व-सहायता समूह की महिलाओं द्वारा तैयार की गई कीटनाशक दवाई एवं टॉनिक का प्रदर्शन भी किया गया।
    प्रभारी सचिव श्री धनंजय देवांगन ने आंवरी के गौठान के लिए स्प्रिंकलर सिस्टम स्थापित करने के निर्देश भी दिए। यहां वर्मीकंपोस्ट तैयार करने के लिए केचुआ भी उपलब्ध कराने के निर्देश कृषि विभाग के उप संचालक एन. के नागेश को दिए। कृषि, उद्यानिकी, पशुपालन और मछली पालन विभाग के मैदानी कर्मचारियो को गौठान का सतत निरीक्षण करने के लिए निर्देशित किया गया। प्रभारी सचिव श्री देवांगन तथा कलेक्टर श्री चौहान द्वारा आंवरी के गौठान में फलदार एवं छायादार पौधों का रोपण भी किया गया। इस अवसर पर विभिन्न विभागों के अधिकारी तथा ग्राम पंचायत आंवरी के सरपंच श्रीमती मनाय गावड़े, उप सरपंच महेश साहू, ग्राम गौठान समिति की अध्यक्ष मनराखन पटेल, लक्ष्मीकांत गावड़े, पूरन जैन, कन्हैया डहरे, भूषण सिन्हा सहित ग्रामीणजन बड़ी संख्या में मौजूद थे।