पटना । पटना में आर्थिक तंगी से ऊबकर एक दिव्यांग विधवा शिक्षिका ने पुनपुन नदी में छलांग लगाकर खुदकुशी कर ली। स्थानीय लोगों द्वारा घटना की जानकारी दिए जाने के बाद पुलिस मौके पर पहुंचकर शव की तलाश में जुट गई है। हालांकि, अब तक शव की बरामदगी नहीं हो सकी है। पुलिस ने घटनास्थल से दिव्यांग महिला शिक्षिका का ट्राई साइकिल और वैशाखी बरामद कर लिया है। इस महिला शिक्षिका की पहचान थाना क्षेत्र के गोविंदपुर निवासी शांति देवी के रूप में की गई है, वह निजी विद्यालय में शिक्षिका के पद पर तैनात थी। बताया जा रहा है कि 2 वर्ष पूर्व पति की बीमारी से हुई मौत के बाद अपने दो बच्चों की परवरिश को लेकर शांति देवी ने एक निजी विद्यालय में शिक्षण का कार्य शुरू किया था। इससे वो अपना और अपने दो बच्चों की परवरिश करती थी, लेकिन कोरोना संक्रमण को लेकर पिछले 3 माह से विद्यालय बंद होने और वेतन नहीं मिलने के कारण परिवार के समक्ष भीषण आर्थिक तंगी की समस्या उत्पन्न हो गई, जिससे शांति देवी खासी परेशान थीं। इसी हताशा में आकर शांति देवी ने पुनपुन पुल से कूदकर खुदकुशी कर ली। पुलिस ने महिला शिक्षिका के घर से सुसाइड नोट भी बरामद कर लिया है। घटना के संबंध में पूछे जाने पर स्थानीय लोगों और महिला शिक्षिका की पुत्री प्रीति कुमारी ने बताया कि शांति देवी आर्थिक तंगी से परेशान थी और इसी हताशा में आकर उन्होंने खुदकुशी कर ली है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।