भोपाल। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में बिना नाम लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए रहजनों से शिकायत और रहबरी पर सवाल उठाया तो मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी शायराना अंदाज में पलटवार किया। उन्होंने राहुल गांधी के ट्वीट के घंटे भर बाद ही ट्वीट किया। 'यूं ही दिल खोलकर आप बात करें, कभी अपनों से भी सवाल करें। आपको रहजनों से गिला है तो 'अपने यार रहजनों' से आप कुछ तो सवाल करें।'शिवराज का ट्वीट ट्रोल हुआ तो फिर पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ भी कूद पड़े। उन्होंने भी वही अंदाज अपनाया और ट्वीट किया। 'यार रहजनों से आपने भी तो खूब यारी निभाई है, जा- जाकर उनके आगे खूब झोलियां फैलाई हैं, उनकी तारीफों में भी जी भरकर कसीदे गढे़ हैं, आज अपनों से सवाल की हिम्मत नहीं आप में, इसलिए क्या खूब पलटी खाई है आपने।'

चीन का नाम लेने से क्यों घबराते हैं पीएम मोदी : दिग्विजय सिंह
उधर, वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने सवाल किया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन का नाम लेने से घबराते क्यों हैं? मप्र के पूर्व सीएम ने कहा कि विदेश मंत्री और रक्षामंत्री कह रहे हैं कि चीनी सेना हमारे क्षेत्र में घुस आई है, पर पीएम मोदी इससे इन्कार करते हैं। आखिर वे चीन का नाम लेने से क्यों घबराते हैं, वे रक्षा मामले में झूठ बोल रहे हैं। मप्र के मंडला में पत्रकारों से चर्चा करते हुए दिग्विजय सिंह ने आरोप लगाया कि भाजपा देशहित और राष्ट्रवाद पर दिखावा करती है।

राहुल गांधी ने शेर के जरिए पीएम पर साधा था निशाना 
ज्ञात रहे कि शायर शहाब जाफरी के शेर "तू इधर-उधर की बात न कर ये बता कि काफिला क्यों लुटा, मुझे रहजनों से गिला नहीं, तेरी रहबरी पे सवाल है" को मंगलवार को राहुल गांधी ने इस्तेमाल करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी पर चीन के मसले को लेकर निशाना साधा। दरअसल, पीएम मोदी ने सोमवार शाम को अपने संबोधन में चीन से चल रहे विवाद पर कोई टिप्पणी नहीं की। कयास लगाए जा रहे थे कि पीएम मोदी चीन पर कुछ बोलेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। चीन का जिक्र न होने पर कांग्रेस ने प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि चीन की आलोचना करने वाली बात भूल जाएं।