भोपाल मध्य प्रदेश की राजनीतिक उठापटक अभी पूरी तरह से शांत नहीं हुई थी कि एक बार फिर ड्रामा शुरू हो गया। रिपोर्ट्स के मुताबिक राज्य की सत्ताधारी पार्टी कांग्रेस के 7 और विधायक कर्नाटक पहुंचे हैं। ये 7 विधायक कौन हैं, फिलहाल इस बारे में कोई पुष्ट जानकारी नहीं है लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ये सभी ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे के हैं। दरअसल, पहले से 3 विधायकों को बेंगलुरु ले जाए जाने की खबर थी। इसके साथ ही अब कुल 10 कांग्रेस विधायकों के बेंगलुरु में होने की खबर है।

सूत्रों के मुताबक कर्नाटक बीजेपी के विधायक मध्य प्रदेश के कांग्रेस विधायकों को लेकर बेंगलुरु पहुंचे हैं। खास बात यह है कि इनमें कुछ मंत्री भी शामिल हो सकते हैं। बताया जा रहा है कि इन विधायकों को बेंगलुरु के बाहरी इलाके में किसी रिजॉर्ट में इन विधायकों को ठहराया गया है। वहीं, मीडिया से बात करते हुए मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ ने कहा है कि बीजेपी से अब रहा नहीं जा रहा है। कमलनाथ ने कहा, 'उन्होंने 15 साल में जो भ्रष्टाचार किया, वह सामने आने जा रहा है। इसलिए वे बेचैन हो रहे हैं।'

वापस लौटे थे विधायक
मध्य प्रदेश की राजनीति में पिछले सप्ताह 3 मार्च की देर रात राजनीतिक ड्रामा उस वक्त शुरू हुआ, जब कांग्रेस, बीएसपी और एसपी के कुल नौ विधायक अचानक से गायब हो गए। इनमें से पांच विधायकों को अगले ही दिन रात में भोपाल लाया गया, जबकि निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह शेरा, कांग्रेस विधायक बिसाहू लाल सिंह और रघुराज कंसाना भी वापस लौट आए। लेकिन एक कांग्रेस विधायक हरदीप सिंह डंग ने इस्तीफा दे दिया है।