मुम्बई । भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान कपिल देव ने कहा है कि जो भी खिलाड़ी लगातार खेल रहे हैं  और थकान का अनुभव कर रहे हैं तो उन्हें आईपीएल नहीं खेलना चाहिये। हाल ही में कप्तान विराट कोहली, लोकेश राहुल सहित कई खिलाड़ियों ने कहा था कि व्यस्त कार्यक्रम के कारण उनकी फिटनेस ओर खेल पर प्रभाव पड़ रहा है। इसी को देखते हुए कपिल ने कहा कि थकान का अनुभव करने वाले खिलाड़ी आईपीएल छोड़ सकते हैं। 
इस पूर्व कप्तान ने कहा, 'अगर आपको लगता है कि थक गया हूं तो मत खेलो आईपीएल। आईपीएल में आप अपने देश का प्रतिनिधित्व नहीं कर रहे हैं। इसलिए अगर आपको लगता है कि आप थक गए हैं तो आप आईपीएल के दौरान हमेशा ब्रेक ले सकते हैं। वहीं जब आप अपने देश का प्रतिनिधित्व कर रहे होते हैं तो फिर अलग भावना होनी चाहिए।'
उन्होंने कहा कि जब खिलाड़ी अपने देश के लिए खेल रहे होते हैं तो उन्हें अपना सर्वश्रेष्ठ देने की जरूरत होती है और इससे समझौता नहीं करना चाहिए पर देखा जा रहा है कि आजकल खिलाड़ी फ्रैंचाइजी आधारित क्रिकेट खेलने में ज्यादा  ऊर्जा लगा रहे हैं। इस महान ऑलराउंडर ने माना कि जब वे खेलते थे तो उन्हें भी थकान महसूस होती थी। उन्होंने कहा, जब आप एक सीरीज में खेलते रहते हैं और उस समय थकान महसूस करते हैं, जब आप रन नहीं बना रहे होते हैं या विकेट नहीं ले रहे होते हैं लेकिन जब आप ऐसा करते हैं तो कभी नहीं थकते हैं। आप 7 विकेट लेते हैं और एक दिन में 20-30 ओवर गेंदबाजी करते हैं।' बेहतर प्रदर्शन हमेशा एक सकारात्मक उर्जा प्रदान करता है और उससे हमें थकान का अनुभव नहीं होता है।