छिंदवाड़ा.कमलनाथ कैबिनेट (kamalnath cabinet) की एक बैठक भोपाल से बाहर छिंदवाड़ा के तामिया में होगी.वहां बैठक करने का मकसद टूरिज्म को प्रमोट करना है. मुख्यमंत्री कमलनाथ का प्लान तामिया को टूरिस्ट डेस्टिनेशन (Tourist Destination) के रूप में विकसित करने का है. ताकि अब तक तामिया से दूरी बनाए लोग यहां का रुख करें.  इससे पहले कैबिनेट की एक बैठक जबलपुर में हो चुकी है.

एक कार्यक्रम में शामिल होने तामिया पहुंचे मुख्यमंत्री ने कहा तामिया की सभ्यता और संस्कृति से प्रदेश के लोगों को रूबरू होना चाहिए.विंध्य, ग्वालियर चंबल और मालवा में बैठे लोगों को महाकौशल के पर्यटन स्थलों और तामिया की खूबियों के बारे में अब तक पता नहीं है. ऐसे में जरूरी है कि देश-दुनिया के लोग यहां के बारे में जानें. इसके लिए कई तरह के कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे. इसकी शुरुआत तामिया से की जाएगी. यहां पर कैबिनेट की बैठक का आयोजन होगा जिसमें मंत्रिमंडल के सदस्य तामिया के बारे में समझ सकेंगे और पूरे प्रदेश में यहां की खासियत को लेकर संदेश जाएगा.

कौतूहल का विषय है तामिया


दशकों तक मुख्यधारा से कटा रहा पातालकोट का इलाका आज भी कौतूहल का विषय है. पातालकोट वह इलाका है जहां एक बड़ी आबादी शहरी और ग्रामीण सभ्यता से दूर अलग अपनी जिंदगी जी रही है.यहां पर बुनियादी सेवाएं तक नहीं पहुंच पाई थीं. लेकिन अब यह इलाका शिक्षा, स्वास्थ्य और दूसरी सुविधाओं से लैस है. पातालकोट के पास तामिया खूबसूरत जगह है. इसके आसपास घने जंगल और खूबसूरत वादियां, नदी और तालाब हैं. सीएम कमलनाथ इसे टूरिस्ट डेस्टिनेशन के तौर पर डेवलप करना चाहते हैं. बड़े टूर ऑपरेटर्स की नजर भी इस पर है. कई प्राइवेट रिसोर्ट खुल चुके हैं और सैलानियों का आना-जाना शुरू हो चुका है. अब सरकार तामिया में कैबिनेट बैठक कर इस जगह को सुर्खियों में लाना चाहती है.

जबलपुर में हो चुकी है कमलनाथ कैबिनेट की बैठक

इससे पहले राजधानी में मंत्रालय से बाहर जबलपुर में कमलनाथ कैबिनेट की बैठक हो चुकी है. इसमें मुख्यमंत्री ने महाकौशल के विकास को लेकर कई बड़े फैसले किए थे. और अब तामिया में टूरिज्म कैबिनेट कर मुख्यमंत्री पर्यटन को लेकर कई बड़े फैसले लेने की तैयारी में हैं. मुख्यमंत्री की मंशा के मुताबिक प्रशासनिक अधिकारी तामिया में कैबिनेट का आयोजन करने का खाका तैयार करेंगे. उसके बाद अगले 1 से 2 महीने के अंदर तामिया में कैबिनेट की बैठक होगी.