बिलासपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बिलासपुर (Bilaspur) में डिप्टी कलेक्टर (Deputy Collector) के साथ रंगदारी और मारपीट का जुर्म (Crime) दर्ज किया गया है. भनवारटंक स्थित मरहीमाता मंदिर में दर्शन करने गए बिलासपुर के डिप्टी कलेक्टर एआर टंडन (Deputy Collector AR Tandan) और उनके रिश्तेदारों के ​साथ रंगदारी नहीं देने पर मारपीट की गई है. मामले में चार युवकों के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया गया है. बिलासपुर के कोटा पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज की गई है. पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई है.

बिलासपुर (Bilaspur) के डिप्टी कलेक्टर एआर टंडन (Deputy Collector AR Tandan) बीते 29 दिसंबर को मरहीमाता मंदिर में अपने रिश्तेदारों के साथ दर्शन के लिए गए थे. दाेपहर में वहां चार युवक आए और शराब पीने के लिए पैसा मांगने लगे. डिप्टी कलेक्टर ने पैसा मांगने का कारण पूछा ताे चाराें गालियां देने लगे और धमकाया भी. शिकायत के मुताबिक पैसा देने से मना करने पर युवकाें ने पिटाई शुरू कर दी. डिप्टी कलेक्टर के रिश्तेदार उत्तम अनंत व रेखा खाण्डे से भी युवकाें ने मारपीट की. वहां मौजूद दर्शनार्थियों ने बीच बचाव किया, तब चारों वहां से भाग निकले. सिटी मजिस्ट्रेट की रिपोर्ट पर पुलिस ने जुर्म दर्ज कर लिया है.

पहले भी अफसरों से मारपीट


बता दें कि बिलासपुर में अफसरों से मारपीट का ये पहला मामला नहीं है. करीब दो साल पहले तत्कालीन कोरबा एएसपी के साथ भी बिलासपुर में मारपीट की गई थी. रात में अपनी बहन को हॉस्टल छोड़ने जा रहे पुलिस अफसर का विवाद ऑटो चालक से हो गया था. इसके बाद कुछ ऑटो चालकों ने मिलकर एएसपी के साथ गाली गलौच और मारपीट की थी. हालांकि इस मामले में पुलिस ने दो दिन के भीतर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था. अब इसी तरह का मामला फिर से सामने आया है. पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई है.