सफाई कर्मचारी ने तुरंत पुलिस को जानकारी दी. इसके बाद पुलिस कूड़ेदान में से नवजात को एक आश्रम में देखभाल एवं इलाज के लिए पहुंचाई.
पुणे के विश्रांतवाड़ी में एक कूड़ेदान में नवजात मिला है. एक महिला सफाई कर्मचारी कूड़ेदान से कचरा उठा रही थी, तभी उसे एक पतले कपड़े में कुछ हिलता हुआ दिखाई दिया. सफाई कर्मचारी ने तुरंत पुलिस को इस बात की जानकारी दी. इसके बाद पुलिस कूड़ेदान में से नवजात को एक आश्रम में देखभाल एवं इलाज के लिए पहुंचाई.

सफाई कर्मचारी लष्मी ढेमरे ने बताया कि पिछले 19 वर्ष से वो स्नेहगंध सोसायटी के आसपास सफाई का काम कर रही है. लक्ष्मी ने कूड़ेदान में देखा कि कोई चीज हिल रही है. नवजात के गले को कपड़े से कसकर बांधा गया था. उसने आशंका जताई कि जल्दबाजी में किसी ने हत्या करके उसे छोड़ दिया.

नवजात का ससून अस्पताल में इलाज कराया गया. बाद में उसे एक आश्रम मे भेजा गया जहां ऐसे अन्य अनाथ बच्चों के साथ ये नवजात जिंदगी की शुरुआत करेगा. पुणे की विश्रांतवाड़ी पुलिस मामले में तफ्तीश कर रही है.