मध्य प्रदेश में अब सरकारी स्कूलों में बच्चों को खादी से बनी यूनिफॉर्म दी जाएंगी. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की पहल पर प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने ये फैसला लिया है. अगले सेशन से इसकी शुरुआत हो सकती है.

मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार आते ही खादी की वापसी होने जा रही है.स्कूल यूनिफार्म अब खादी की होगी. अगले शिक्षा सत्र से इसकी शुरुआत हो सकती है. पहले सरकारी स्कूलों के प्राइमरी तक के बच्चों को निशुल्क मिलने वाली यूनिफॉर्म खादी की दी जा सकती है. प्रदेश के सामान्य प्रशासन मंत्री गोविंद सिंह का कहना है कि खादी ग्रामोद्योग आज़ादी की मूलभावना से जुड़ा है.महात्मा गांधी ने चरखा गांव गांव तक पहुँचाया था. हम बापू की उसी मूल भावना को नयी पीढ़ी तक पहुंचाान चाहते हैं. आज खादी के प्रचार प्रसार की ज़रूरत है.दरअसल बुधवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से खादी व्यवसाइयों के एक प्रतिनिधि मंडल ने मुलाक़ात की थी. उनमें एक व्यवसायी मध्य प्रदेश का भी था. व्यवसायी ने राहुल गांधी से निवेदन किया था कि मध्य प्रदेश में भी खादी को बढ़ावा दिया जाए. उसके बाद राहुल गांधी ने सीएम कमलनाथ को फोन किया था. उसके बाद प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने स्कूलों में निशुल्क यूनिफॉर्म खादी की बनाने का फैसला किया. सरकार के इस फैसले से कुटीर और लघु उद्योगों को काम और लोगों को रोज़गार मिलेगा.