रायगढ़।   उच्च शिक्षा, कौशल विकास, तकनीकी शिक्षा एवं रोजगार, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्री उमेश पटेल ने 24 नवम्बर को खरसिया विकासखण्ड के कांटाहरदी में आंगनबाड़ी भवन एवं शेड निर्माण कार्य का लोकार्पण किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उच्च शिक्षा मंत्री श्री पटेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ भगवान श्रीराम की माता कौशल्या की जन्मभूमि रही है। प्राचीनकाल में यह दक्षिण कौशल के नाम से जाना जाता था। उन्होंने कहा कि शासन ने यह निर्णय लिया है कि भगवान श्रीराम अपने 14 वर्ष के वनवास के दौरान जिन रास्तों से गुजरे थे, उन महत्वपूर्ण स्थलों को पर्यटन स्थल के रूप में विस्तारित एवं विकसित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि रायगढ़ जिले का राम झरना एवं गेरवानी का लक्ष्मण पादुका स्थान राम वन गमन पथ के लिए शासन के प्रस्ताव में पहले से ही शामिल है।
    मंत्री श्री पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने यह स्पष्ट कह दिया है कि शासन की प्रतिबद्धता है कि 2500 रुपये समर्थन मूल्य में धान खरीदी की जाएगी। राशन नवीनीकरण के बाद कार्डधारियों को 35 किलो चावल मिलेगा। उन्होंने कहा कि जिनके नाम छूट गए है, उनका नाम राशन कार्ड में जुड़ सकता है। उन्होंने आंगनबाड़ी एवं शेड निर्माण की मांग पूरी होने पर ग्रामवासियों को बधाई दी। उच्च शिक्षा मंत्री श्री उमेश पटेल ने ग्राम बालमगोड़ा में उचित मूल्य दुकान सह गोदाम, सीसी रोड का भी लोकार्पण किया। उच्च शिक्षा मंत्री श्री पटेल का ग्रामवासियों ने लोक नृत्य करते हुए आत्मीय स्वागत किया। इस अवसर पर जनपद पंचायत के पूर्व अध्यक्ष श्री निराकार पटेल, ग्राम कांटाहरदी के सरपंच श्रीमती आशा यादव एवं उप सरपंच श्री राधेलाल सिदार उपस्थित थे।