Breaking News

Today Click 536

Total Click 5103656

Date 23-01-18

मैंने 10,000 एपिसोड्स किए, यह किरदार उनमें से किसी के आसपास भी नहीं है

By Khabarduniya :05-01-2018 09:59


हमें 'पृथ्वी वल्लभ' में अपने किरदार विनयादित्य के बारे में बताइए

मैं विनयादित्य का जो किरदार निभा रहा हूं, वह इस शो में काफी महत्वपूर्ण है। विनयादित्य मान्याखेत का प्रधान पुजारी है और वह राज्य में सबसे सम्मानित और परम पूज्यनीय बुजुर्ग है। वह मृणाल के पिता शिवदत्ता का पिता भी है और जब सिंहदंत के ​परिवार द्वारा मृणाल और तैलाप के माता—पिता की हत्या कर दी जाती है, तो उनका अभिभावक भी बन जाता है। वह एक नैतिक व्यक्ति है और परिवार के साथ ही साथ राज्य के लिए भी पूरी तरह से निष्ठावान है। उसकी कार्यनीतिक बुद्धि बहुत कुशाग्र है।

विनयादित्य मृणाल (सोनारिका) का विश्वासपात्र, दार्शनिक, मार्गदर्शक और संरक्षक है। वह मृणाल साथ ही उसके बचपन से ही रहा है, और उसके माता—पिता की मृत्यु के बाद जिंदगी में आगे बढ़ने में उसकी मदद करने के लिए उसका सहारा बना है। वह मृणाल के लिए पिता की तरह है और ऐसा एकमात्र पुरुष है जिस पर वह अपनी भावनाओं के साथ भरोसा करती है।

  1. आप इस किरदार को किस वजह से चुना? आपने भारतीय टेलीविजन पर अब तक जितने भी किरदार निभाए हैं, यह किरदार उनसे कैसे अलग है?

मैंने पहले कभी इस तरह का किरदार नहीं निभाया है। महाभारत से लेकर महादेव तक, मैंने पुजारी की भूमिका​ निभाई है लेकिन यह किरदार पूरी तरह से अलग है। यह एक अनोखा और कुल मिलाकर विविध किरदार है। मैं इस उद्योग में पिछले 30 सालों से हूं और मैंने ऐसी भूमिका नहीं निभाई है। यह एक प्रमुख भूमिका है और उतनी ही चुनौतीपूर्ण भी। दर्शकों को इस किरदार के विभिन्न रूप देखने का मौका मिलेगा और मुझे विश्वास है कि इसकी प्रशंसा की जाएगी।

  1. विनयादित्य का किरदार मान्याखेत के प्रधान पुजारी का है और वह मृणाल के लिए उसके पिता के समान है। क्या यह बता सकते हैं कि शो में मृणाल की जिंदगी पर इस किरदार का क्या प्रभाव होगा

प्रधान पुजारी या गुरु जो भी आप कहें, उसके रूप में विनयादित्य की एकमात्र जिम्मेदारी राज्य और इसके लोगों की सुरक्षा करना होगी, और यह सुनिश्चित करना भी कि यह राज्य सबसे शक्तिशाली राज्य के रूप में प्रगति करना जारी रखे। पिता स्वरूप होने के अलावा, विनयादित्य मृणाल का अभिभावक और मार्गदर्शक भी होगा एवं सभी खतरों से उसकी रक्षा करेगा। संक्षेप में, वह मृणाल की जिंदगी के सभी पहलुओं में उसका विश्वासपात्र, दार्शनिक और मार्गदर्शक रहेगा। वह हमेशा ही अपने फैसले यह सोचकर लेता है कि उससे मृणाल पर प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तौर पर क्या असर पड़ेगा।

  1. भारतीय टेलीविजन पर काफी सारे ऐतिहासिक शो रहे हैं। आपके अनुसार, पृथ्वी वल्लभ अन्य शोज़ से किस तरह से अलग होने वाला है

किसी संदेह के बिना 'पृथ्वी वल्लभ' भारतीय टेलीविजन के सभी ऐतिहासिक शोज़ की तुलना में पूरी तरह से अलग शो है। इस शो में वे सभी बातें हैं जो इसे बिल्कुल देखने लायक बनाती हैं — उच्च मूल्य का निर्माण, युद्ध के बेहतरीन दृश्य, रोमांच, भावपूर्ण संगीत और भी कई अन्य। मैं यह कहूंगा कि पृथ्वी वल्लभ एक आम टीवी सीरीज बस नहीं है बल्कि यह एक मूवी की तरह है। आपको इस पर विश्वास करने के लिए यह देखना होगा। इस शो की तुलना भारतीय टेलीविजन पर अब तक आए किसी भी अन्य शो से नहीं की जा सकती है। यह शो इस उद्योग में नए मापदंड स्थापित करेगा। सच कहूं, तो मैं आमतौर पर पुजारी के किरदार करने से बचता हूं। महाभारत के बाद, मैं दूसरी बार पुजारी की भूमिका निभाते हुए दिखाई दूंगा। इस किरदार एवं कथानक ने मुझे इतना ज्यादा आकर्षित किया कि मैंने इसे बस स्वीकार कर लिया। यह भूमिका काफी विशिष्ट है और शो में बहुत महत्वपूर्ण है।

  1. आपने भारतीय टेलीविजन पर कई किरदार निभाए हैं, कौन सा किरदार आपके दिल के पास रहा है और क्यों

टेलीविजन उद्योग में अपने 30 साल के करियर में मैंने कई किरदार निभाए हैं और लगभग 10,000 एपिसोड्स शूट किए हैं, लेकिन मैंने अब जो कुछ भी किया है, यह किरदार उसके आसपास भी नहीं है। महाभारत में द्रोणाचार्य मेरा अब तक का सबसे प्रिय किरदार है और इसके बाद विनयादित्य का यह किरदार मुझे सबसे ज्यादा पसंद है क्योंकि यह अनोखा एवं अलग है। मुझे भरोसा है कि दर्शकों को निश्चित रूप से किरदार ​पसंद आएगा और मैं उत्सुकतापूर्वक उनकी प्रतिक्रिया जानने का इंतजार कर रहा हूं।

 

  1. शो में कौन सा किरदार आपका पसंदीदा है (बिल्कुल, अपने किरदार के अलावा) और क्यों?

मृणाल मेरा पसंदीदा किरदार है। सोनारिका और मैंने पहले भी काफी नजदीकी से काम किया है, जिसमें उसने पार्वती की भूमिका निभाई थी। उस शो में, मैं उसका पिता था और इस शो में, मैं उसका मार्गदर्शक रहूंगा। पृथ्वी वल्लभ में मृणाल के किरदार में जो बात मुझे पसंद है, कि वह एक योद्धा राजकुमारी है, जो दृढ़ इच्छाशक्ति वाली, उग्र और अधिकारपूर्ण है, और वह ताकत एवं सफलता हासिल करने के लिए किसी भी सीमा को पार कर जाएगी। मैंने पहले कभी ऐसा किरदार नहीं देखा है और उसने बहुत अच्छा काम किया है। मैं उसमें एक असली योद्धा देखता हूं। मुझे विश्वास है कि पृथ्वी वल्लभ में सोनारिका की परफॉर्मेंस देखने के बाद, दर्शक पूरी तरह से विस्मित हो जाएंगे। उसने कड़ी मेहनत की है और मैंने उसकी तरह समर्पित कलाकार नहीं देखा है। असल में, शो में ज्यादातर कलाकारों ने अपने किरदार के लिए बहुत मेहनत की है और साथ मिलकर इस शो को एक अलग स्तर पर ले गए हैं। हम सभी इस शो को लेकर काफी उत्साहित हैं और हमने अपने काम में अपना दिल और आत्मा लगा दी है।

  1. और कौन से प्रोजेक्ट्स अभी शुरू होने वाले हैं?

मैं अब अपनी पूरी ऊर्जा 'पृथ्वी वल्लभ' पर लगा रहा हूं। मैं अभी केवल इस शो पर ध्यान देना चाहता हूं, किसी अन्य शो पर नहीं। मैं अपना ध्यान नहीं भंग करना चाहता और इस समय सिर्फ इस किरदार पर ध्यान देना चाहता हूं। यह काफी बड़ा शो है और परफेक्ट शॉट देने में काफी समय लग जाता है।

Source:Agency

Sensex